चंडीगढ़। पूर्व क्रिकेटर अौर पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने  पटियाला के रोड रेज मामले में पंजाब सरकार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में पेश किए गए पक्ष पर कुछ भी कहने से इन्‍कार कर दिया। उन्‍होंने कहा कि कानून की महिमा बड़ी और वह सर्वोच्‍च है। अपना दर्द है ख़ुद सहन करेंगे। पंजाब सरकार के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि सिद्धू 1988 में हुई घटना के लिए दोषी हैं और उनको सजा मिलनी चाहिए।

कहा- सुप्रीम कोर्ट पर पूरा भरोसा है
सिद्धू ने यहां पत्रकारों से बातचीत में इस मामले पर कोई टिप्‍पणी करने से साफ इन्‍कार कर दिया। उन्‍होंने कहा, मेरी इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं है। कानून सबसे बड़ा और शक्तिशाली है। यह सर्वोच्‍च है और मुझे इस पर पूरा भरोसा है। सिद्धू ने कहा, मुझे सुप्रीम कोर्ट पर पूरा विश्वास है। अपना दर्द ख़ुद सहन करुंगा।
बता दें कि पंजाब सरकार के वकील ने 1988 में पटियाला में हुई रोड रेज की घटना के मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान पक्ष रखा। पंजाब सरकार ने इसमें सिद्धू को दोषी बताते हुए उनको पंजाब एवं ह‍रियाणा हाईकोर्ट द्वारा सुनाई गई सजा काे बरकरार रखने की बात कही।
उधर, केंद्रीय मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि इस मामले में कांग्रेस और उसकी राज्‍य सरकार का पाखंड उजागर हुआ है। जिस व्यक्ति ने एक निर्दोष व्यक्ति को मार डाला, उसे दंडित किया जाना चाहिए। वकील एक वक्तव्य दे रहे हैं लेकिन मुख्यमंत्री कुछ और कह रहे हैं। अमरिंदर सिंह सरकार भ्रम की स्थिति में है और इसलिए मुख्यमंत्री कार्यालय नहीं जा रहे हैं। इस मामले में सिद्धू को सजा मिलनी चाहिए।
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours