मेरा क्लाइंट कुलदीप गिल बहुत टाइम से ग्रेवाल के संपर्क में नहीं।एडवोकेट अनिल सागर
मोहाली (रोहित ) मोहाली में चर्चित वर्ल्ड की नाम की इमीग्रेशन कंपनी में कई लोगों से ठगी हुई थी जिस का मालिक बलजिंदर ग्रेवाल काफी समय से पुलिस से भाग रहा था और पुलिस भी काफी समय से उस की तलाश में थी उस ने पिछले दिनों मोहाली कोर्ट में खुद को पुलिस के हवाले कर दिया उस को मटौर थाने की पुलिस ने एक दिन के रिमांड के बाद जेल भेज दिया। रिमांड के दौरान उस ने एक आदमी कुलदीप गिल के बारे में जानकारी दी कि वे मेरा पार्टनर था ग्रेवाल के इस बयान से कुलदीप गिल को काफी सदमा लगा और उस ने अपने वकील अनिल सागर दुवारा एफिडेविट दिया कि मेरा वर्ल्ड की इमीग्रेशन कंपनी से 2016 के बाद कोई लेना देना नहीं है जिस के सबूत मेरे पास हैं उन के वकील अनिल सागर ने कहा कि ग्रेवाल दुवारा जानबूझ कर मेरे क्लाइंट का नाम लिया है कुलदीप गिल का वर्ल्ड की नामी इमीग्रेशन कंपनी से कोई सरोकार नहीं है जिस के पर्याप्त सबूत मेरे पास माजूद हैं कुलदीप गिल का नाम सिर्फ आपसी रंजिश का नतीजा है इस के सिवा कुछ नहीं है।कुलदीप गिल ने अपने एफिडेविट में कहा कि 2016 को किसी बात पर ग्रेवाल से उन का रिश्ता पूरी तरह से खत्म हो गया था और में ने वर्ल्ड की नामिक इमीग्रेशन कंपनी से अपना नाम निकाल लिया गया जिस के सबूत उन के पास हैं।हाई कोर्ट के एडवोकेट अनिल सागर ने कहा कि ग्रेवाल दुवारा दिया गया बयान सिर्फ पुलिस को गुमराह करने और मेरे क्लाइंट कुलदीप सिंह गिल को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने के सिवा कुछ नहीं है
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours