पाकिस्तान ने पंजाब सरकार के नेतृत्व में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के प्रतिनिधियों वाले प्रतिनिधिमंडल को श्री ननकाना साहिब जाकर ‘अखंड पाठ’ व ‘नगर कीर्तन’ का आयोजन करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है। हालांकि इस संबंध में पंजाब सरकार और प्रतिनिधिमंडल में शामिल मंत्रियों की ओर से कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है। यह प्रतिनिधिमंडल 29 अक्तूबर को पाकिस्तान जाने वाला था लेकिन इस कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है। इस प्रतिनिधिमंडल में पंजाब सरकार के कैबिनेट मंत्रियों तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, बलबीर सिंह सिद्धू, सुखजिंदर सिंह रंधावा, चरणजीत सिंह चन्नी समेत 487 लोग शामिल थे।

इतना ही नहीं पाकिस्तान ने अभी तक भारत सरकार के उस प्रस्ताव का भी जवाब नहीं दिया है, जिसमें 12 नवंबर को ‘गुरपर्ब’ के मौके पर नियमित 5000 श्रद्धालुओं के बजाय 1974 के प्रोटोकॉल के तहत श्रद्धालुओं की संख्या बढ़ाकर 10000 करने का आग्रह किया गया था।
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours