Report: Ravi Kumar
लुधियाना । कोरोना ने कोचिंग संस्थानों की दुनिया बदल दी है। मार्च से कर्फ्यू और लॉकडाउन के बीच प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कराने वाले इंस्टीट्यूटस अब ऑनलाइन की राह पर चल पड़े हैं। सिविल सेवाओं- आइएएस, पीसीएस, बैंकिंग, क्लैट, टैट, यूजीसी नेट आदि की तैयारी कराने वाले कोचिंग संस्थानों ने जुलाई के बाद नए सेशन की ऑनलाइन शुरुआत कर दी है। वहीं मेडिकल, इंजीनियरिंग एंट्रेंस की तैयारी कराने वाले इंस्टीट्यूटस का अभी पुराना सेशन चल रहा है क्योंकि जेईई, नीट की परीक्षाएं होनी है। मार्च में शुरू हुए लॉकडाउन के बाद से ही यह इंस्टीट्यूटस ऑनलाइन विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार कर रहे हैं।

इन संस्थानों के प्रबंधकों का कहना है कि फिलहाल जब तक सरकार की ओर से इंस्टीट्यूटस को खोलने की स्वीकृति नहीं मिलती तब तक ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी। स्थिति सामान्य होने पर विद्यार्थियों को ऑनलाइन व ऑफलाइन दोनों आप्शंस दिए जाएंगे। विद्यार्थी पसंद अनुसार पढ़ाई का कोई भी तरीका अपना सकता है। ऑनलाइन पढ़ाई को सकारात्मक तौर पर देखा जाए तो इससे प्रतियोगी का आने-जाने और रहने का खर्च बच रहा है।

सुबह सात से रात नौ बजे तक लग रहे बैच
फिरोजपुर रोड स्थित पनेशिया इंस्टीट्यूट के डायरेक्टर डॉ. डीके भारती की मानें तो ऑनलाइन पढ़ाई के दौरान विद्यार्थियों को देर शाम तक भी पढ़ाया जा सकता है। जुलाई से नए बैच शुरू हुए हैं जिनमें विद्यार्थी ऑनलाइन पढ़ाई कर रहे हैं। लाइव इंट्रेक्शन के जरिए रोजाना प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों की क्लासेस जारी हैं। शहर से बाहर रहने वाले विद्यार्थी अब घर में ही पढ़ाई का फायदा उठा पा रहे हैं। रोजाना सुबह सात से रात नौ बजे तक विभिन्न क्लासिस के लिए ऑनलाइन बैच चलते हैं।
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours