चंडीगढ। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार के कृषि अध्यादेशों को लेकर शिरोमणि अकाली दल पर हमला किया है। उन्‍होंने कहा कि शिअद का इन अध्‍यादेशों पर स्टैंड बदलना ढकोसला है। शिअद ने अपनी साख बचाने को यूटर्न लिया है। कैप्टन अमरिंदर ने शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल को इस मामले पर अपनी पार्टी की किसानों के प्रति संजीदगी साबित करने के लिए भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार का साथ छोड़ने की चुनौती भी दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र में गठजोड़ सरकार का हिस्सा होने के नाते न केवल अध्यादेश लाने में अकाली दल भी शामिल है बल्कि अध्यादेशों की बिना शर्त हिमायत भी कर चुका है। कैप्टन ने कहा कि अकाली दल दोहरे मापदंड अपना रहा है, उन्होंने सुखबीर बादल से सवाल किए कि जब केंद्र सरकार इन अध्यादेशों को पारित करवाने के लिए संसद में पेश करेगी तो क्या अकाली सांसद इसके खिलाफ वोट करेंगे? जब अध्यादेश लाए जा रहे थे तब सुखबीर क्या कर रहे थे, ऐतराज क्यों नहीं जताया? उन्‍होंने कहा कि सुखबीर की पत्‍नी केंद्रीय मंत्री हैं, क्या उन्होंने एक बार भी केंद्रीय मंत्रिमंडल में किसानों के हक में आवाज उठाई? वह इन अध्यादेशों के लिए जिम्मेदार केंद्र सरकार का हिस्सा हैं।
Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours