हम नहीं सुधरेंगें रोक सको तो रोक लो

मोहाली के असली कंसल्टेंसी लाइसेंस वाले सरेआम कानून को ले रहे हैं हाथ में

एस,एस, पी मोहाली ले रहे हैं AC कमरे की ठंडी हवा"जनता लुट रही है पुलिस कबूतर बन सब देख रही है ?

मोहाली / चंडीगढ़

इंसाफ एक्सप्रेस 

रोहित कुमार



मोहाली और चंडीगढ़ में मानो जैसे कनाडा वर्क परमिट और PR के दफ्तरों की मंडी सी लगी हुई है प्रशानिस्क अधिकारी कुम्भकर्ण की नींद सो रहे हैं आम जनता को कई अजीबो गरीब तरीकों से PR और कनाडा वर्क परमिट के नाम पर सरेआम लुटा जा रहा है। फेसबुक,इंस्टाग्राम,linkdin, जॉब्स•कॉम और अन्य सोशल साइट्स पर भ्रामिक कनाडा में पक्की नॉकरी दिलवाने के विज्ञापन दिए जा रहे हैं। केरेला,आंध्र प्रदेश,हिमाचल प्रदेश,नेपाल,श्रीलंका,तमिल नाडु,उत्तरखंड,जैसे अन्य राज्यों में पंजाब और चंडीगढ़ में बने अपने ठगी के ठाकानों से वर्क परमिट के विज्ञापन दिए जाते हैं और फिर उनसे लाखों रुपये लुट लिए जाते हैं।

हम पहले भी कई बार इन मृतज़मीर वीज़ा एजेंटों के लूटने के तरीके बात चुके हैं।

हम अपने इस आर्टिकल में एक बार फिर इनके अन्य लूटने के तरीके और पैसों के बारे में बताने जा रहे हैं ।

1 : रजिस्ट्रेशन फीस (2000 से 10000 तक)

2 : नकली मेडिकल  (3000 से 18000 तक)

3 : जॉब ऑफर लेटर  (15000 से 35000 तक)

4 : नकली LMIA लेटर (60000 से 150000 तक)

5 :  जॉब ऑफर लेटर का नकली वेब साइट पर चेक करवाना

6 : नकली LMIA का नकली वेब साइट पर चेक करवाना

7 : नकली कैनेडियन कंपनी की वेब साइट बना कर उसका ही नकली जॉब आफर लेटर देना 

8 : कैनेडियन नकली वकील के नाम पर 10000 से 35000 लेना

9 : Android app से नकली विदेशी whatsapp नंबर बना कर क्लाइंट को नकली वकील बन कर कॉल करना

10 : रात के समय किसी भी नाइजीरियन(नीग्रो) से इंग्लिश भाषा में क्लाइंट को कॉल करना

11 : ऐसे नकली वीज़ा एजेंट कैनेडियन सरकार की नकली वेब साइट बना कर जनता को मूर्ख बनाते हैं।

12 : वीज़ा लगवाने आए लोगों का जब वीज़ा ही नहीं लगना तो पासपोर्ट वापस करने की 10000 से 20000 तक की लुट

13 : एम्बेसी फीस के नाम पर (15000 से 30000 तक)

14 : PCC के नाम पर (5000 से 6000 तक)

15 : नकली experience certificate के नाम पर (20000 से 40000 तक)

16 : PR लगवाने के नाम पर (800000 से 2000000 तक)

17 : नकली नाम से फेसबुक और इंस्टा ग्राम पर विज्ञापन देना 

18 : वर्क परमिट के नाम पर नकली टूरिस्ट वीज़ा देना 

19 : क्लाइंट के हाथों ही आधी-अधूरी फ़ाइल कैनेडियन एम्बेसी में जमा करवाते हैं जो refuse ही होते है और यह नकली वीज़ा एजेंट कैनेडियन एम्बेसी का कसूर निकाल क्लाइंट का सारा पैसा कहा जाते हैं।

20 : नकली LMIA का QR Code बना कर क्लाइंट को दिखा कर 60000 से 250000 तक ले लिया जाता है।


मोहाली के कुछ कंसल्टेंसी लाइसेंस वाले ईनमसे से किसी भी तरीके से जनता को लूट रहे हैं । यह वो तरीके हैं जिस के बारे में आम जनता को बिल्कुल भी पता नहीं चलता के वो लुट चुके हैं । अभी हम आपको ऐसी वेब साइट्स के बारे में भी जानकारी देते हैं जिस के नाम पर यह लोगों से लाखों की ठगी काटने में कामयाब हो रहे हैं।


Company website : 

कनाडा में किसी भी कंपनी से मिलता जुलता नाम बता कर क्लाइंट को उस नकली कंपनी का जॉब ऑफर लैटर दे दिया जाता है और वेब साइट से क्लाइंट को आफर लेटर की सत्यता को प्रमाणित काटने के लिए ईमेल कर दी जाती है।

इस नकली कंपनी की नकली वेब साइट तैयार करवा ली जाती है और उसी वेब साइट के माधयम से लूट का एक चक्रव्यूह क्लाइंट के इर्द-गिर्द रच दिया जाता है ।

Canadian Govt website : 

कनाडा की असली वेबसाइट कुछ यह हैं फिर हम आपको बताते हैं कि किस नकली वेब साइट पर ये LMIA और जॉब आफर लैटर चेक करवा कर क्लाइंट को लूट लेते हैं ।

कनाडा की असली वेब साइट : 

cic.gc.ca

लेकिन यह बेशर्म और मृतज़मीर लोग जिस वेब साइट का प्रयोग करते हैं वो है। 

Canada.gic.ca

cic.gic.ca

Canada.gc.ca


यह वेब साइट कनाडा की नहीं इन ठगों की होती है।यह नकली वीज़ा एजेंट सिर्फ इस लिए पनप रहे हैं क्योंकि न तो प्रशासन और न ही पुलिस अपना काम कर रही है। यह दोनों ही प्रशासन कबूतर की तरह अपनी आंखें बंद किये बैठे हुए हैं जिस का भुकतान आम जनता को अपने खून पसीने की कमाई से चुकाना पड़ रहा है ।

ऐसी कई दफ्तर मोहाली के फेज 11 , 7,1,2,5 और 70 सैक्टर में सब्जी मंडी की तरह नज़र आते हैं।इसके अलावा चंडीगढ़ के सैक्टर 34,8,9,47,40,35,38 में भी नज़र आएंगे।

इन दफ्तरों के नाम और तरीके हम अपने चैनल insaf express पर बतायेंगे।





Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours