रवि कुमार 

इंसाफ एक्सप्रेस 

मुख्य डाकघर हमीरपुर में मिलेंगे स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद : डीसी



हमीरपुर  उपायुक्त देबश्वेता बनिक ने कहा है कि स्वयं सहायता समूहों के उत्पाद मुख्य डाकघर हमीरपुर परिसर में बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे। हिमाचल प्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत स्वयं सहायता समूहों की आय बढ़ाने के लिए स्थापित जिला का पहला महिला शक्ति केंद्र का उदघाटन करने के उपरांत उपायुक्त ने यह जानकारी दी।


 उन्होंने बताया कि ग्रामीण विकास विभाग के अंर्तगत गठित स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की बिक्री के लिए मुख्य डाकघर परिसर में एक कांउटर स्थापित किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य ग्रामीण विकास मिशन तथा डाक विभाग के संयुक्त प्रयासों से ही महिला शक्ति के काऊंटर खोले जा रहे हैं।



उन्होंने कहा कि मुख्य डाकघर में रोजाना लोगों की बड़ी संख्या में आवाजाही के कारण यहां स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की बिक्री बढ़ेगी और इससे उनकी आय में बढ़ोतरी होगी। उन्होंने लोगों से स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों की अधिक से अधिक खरीद का आह्वान किया, इन समूहों की आय में वृद्धि हो सके। उन्होंने बताया कि महिला शक्ति केंद्र में स्वयं सहायता समूहों द्वारा तैयार किए गए परंपरागत खाद्य पदार्थ जैसे शीरा, सेवईयां, बडिय़ां, पपीते और लौकी से बनी मिठाईयों के साथ-साथ जूट के बैग, बांस के सजावटी सामान, राखियां और स्थानीय स्तर पर निर्मित अन्य उत्पाद बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगे।


     


इस अवसर पर मुख्य डाकघर के प्रवर अधीक्षक भवानी प्रसाद ने बताया कि जिला हमीरपुर के डाकघर में यह पहला काऊंटर खोला गया है। इसके अलावा बडसर में भी ऐसा काउंटर खोला जाएगा। इस तरह के कांउटर खुलने से स्थानीय उत्पादों को भी नई पहचान मिलेगी। इस अवसर पर परियोजना अधिकारी डीआरडीए केडी सिंह कंवर, बीडीओ अस्मिता ठाकुर, सहायक अधीक्षक संदीप धर्माणी, निरीक्षक डाकघर  रजनीश कुमार, सहायक डाकपाल रबिन देव, स्वयं सहायता समूहों की महिलाएं, खंड विकास कार्यालय और पोस्ट ऑफिस के अधिकारी और कर्मचारी भी उपस्थित रहे।



Share To:

Post A Comment:

0 comments so far,add yours